सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

धार्मिक लेबल वाली पोस्ट दिखाई जा रही हैं

भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा का पुरूस्कार वितरण समारोह हुआ संपन्न

अमित शर्मा (झाबुआ अभीतक)
झाबुआ। अखिल विश्व गायत्री परिवार द्वारा आयोजित भारतीय संस्ति ज्ञान परीक्षा का जिला स्तरीय पुरूरूकार वितरण समारोह स्थानीय गायत्री शक्तिपीठ (बसंत कालोनी) पर रविवार को संपन्न हुआ। समारोह मे विशेष अतिथी वरिष्ठ प्राध्यापक एवं साहित्यकार डॉ गीता दुबे रही। मुख्य अतिथी गायत्री परिवार के जिला समन्वयक घनश्याम वैरागी थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के जिला संयोजक श्याम त्रिवेदी ने की।समारोह को संबोधित करते हुए डॉ दुबे ने कहा कि भारतीय संस्क्रति को बढावा देने के लिए संस्क्रति ज्ञान परीक्षा एक बडा अभियान है। इस परीक्षा मे सहयोग देने वाले प्राचार्य-शिक्षकगण बधाई के पात्र है। अध्यक्षता कर रहे श्री त्रिवेदी ने परीक्षा के बारे मे विस्तृत जानकारी देते हुए शेक्षणिक संस्थाओं द्वारा किए गए कार्यो एवं सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होने बताया परीक्षा के प्रति विद्यार्थीयों की बढती रूची के कारण ही आज जिले मे हर वर्श अधिक से अधिक संख्या बढती जा रही है। वर्श 2018 की परीक्षा मे 24 हजार से अधिक बच्चों ने इस परीक्षा मे सहभागिता की थी।
परीक्षा के प्रतिवेदन का वाच…

स्वर्णकार महिला मंडल ने अजमीढ जयंती पर निकाली शोभायात्रा नवीन पदाधिकारियों का किया गया स्वागत

अमीत शर्मा। झाबुआ अभीतक
राकेश पोद्दार जिला प्रतिनिधि।

झाबुआ अभीतक। 

झाबुआ । शरद पूर्णिमा के पावन पर्व पर श्री मैढ स्वर्णकार समाज महिला मंडल द्वारा स्वर्णकार समाज के पितृ पुरूष भगवान अजमीढ की जन्म जयंती के अवसर पर नगर में भगवान अजमीढ की भव्य शोभायात्रा आयोजित की गई । अखिल भारतीय खजवानिया स्वर्णकार समाज की अध्यक्षा श्रीमती कुंता सोनी ने जानकारी देते हुए बताया कि भगवान श्री अजमीढ के जन्मोत्सव पर राधाकृष्ण मार्ग स्थित समाज के श्री सत्यनारायण मंदिर पर सायंकाल 5 बजे से महिलाओं द्वारा भजन कीर्तन का आयोजन किया गया । तत्पश्चात सायंकाल 6 बजे से मंदिर से भगवान अजमीढजी के चित्र को  रथ में बिराजित करके बेंड बाजों के साथ महिला मंडल की सभी सदस्याओं द्वारा लाल चुनरी की एक जेैसी ड्रेस कोड में विशाल चल समारोह निकाला जो राधाकृष्ण मार्ग, रूनवाल बाजार, चन्द्रशेखर आजाद मार्ग, आजाद चैक, गोवर्धननाथ मंदिर चैराहा, राजवाडा  होकर   समाज के मंदिर पर समापन हुआ। बेंड बाजों पर धार्मिक भजनों एवं गीतों से पूरा वातावरण धर्ममय हो गया । महिलाओं द्वारा बेंड बाजो की संगीत की स्वर लहरियों के साथ जगह जगह गरबा रास, घुमर आदि नृत्…

ऐरी तुम कौन हो री, फुलवा बिनन हारी, नेह लगन को बन्यो बगीचों फुल रही फुलवारी’’ भजन के साथ गोवर्धननाथजी के दरबार में मनाया गया सांझी महाउत्सव भगवान श्रीकृष्ण के जय जय कारो से वातावरण हुआ भक्तिमय

अमित शर्मा। झाबुआ अभीतक
राकेश पोद्दार

झाबुआ । ’’ सांझी भली बनाई रे, श्री बृजभान लली की’’ के संगीतमय भजन के साथ सोमवार  सर्वपितृ अमावस्या पर समापन होने वाली संझा पर्व के अवसर पर स्थानीय श्री गोवर्धननाथ जी की हवेली में बिराजित भगवान श्री गोवर्धननाथ जी के दरबार में पुष्टिमार्गीय श्री वल्लभचार्य सम्प्रदाय की परंपरा के अनुसार श्रद्धा एवं भक्ति के साथ सांझी पर्व समापन का आयोजन सायंकाल उल्लासमय वातावरण के साथ संपन्न हुआ ।  हिन्दु मान्यता के अनुसार क्वार महीने के कृष्ण पक्ष की प्रथमा तिथि से सर्वपितृ अमावस्या तक क्वारी कन्याओं द्वारा गोबर से निर्मित संझा का पर्व मनाये जाने की परम्परा रही है । किन्तु पुष्टिमार्गीय परम्परा के अनुसार  गोवर्धननाथ जी के दरबार में सिर्फ 9 दिनों तक सांझी पर्व मनाया जाता है और अन्तिम दिन सर्व पितृ अमावस्या के दिन 9 दिनों की सांझी याने संजा को आकर्षक कलाकोट सुंदर पुष्पों एवं केले की झांकी लगा कर मनाये जाने की पुरातन परम्परा रही है । मंदिर के प्रभू सेवक दिलीप आचार्य ने जानकारी देते हुए बताया कि श्री गोवर्धननाथजी के दरबार में इस दिन सांझी पर्व मनाने की परम्परा इसलिये स्था…

गणेशोत्सव पर्व के उपलक्ष में रोटरी क्लब ‘मेन’ द्वारा मदर टेरेसा आश्रम में किया लड्डूओं का वितरण ,, निराश्रितों ने पालनकर्ता-विघ्नहर्ता गणेजी के लगाए सामूहिक जयकारे

अमित शर्मा (झाबुआ अभीतक) राकेश पोददार झाबुआ। गुरूवार को गणेशोत्सव पर्व की पूरे शहर में धूम रहीं। रोटरी क्लब ‘मेन’ झाबुआ द्वारा गणेशोत्सव पर्व स्थानीय एलआईसी कॉलोनी में मदर टेरेसा आश्रम में निराश्रितजनों एवं दिव्यांग बच्चों के साथ मनाया गया। इस अवसर पर आश्रम में निवासरत सभीजनों ने सामूहिक रूप से मंगल मूर्ति श्री गणेजी के जयकारे लगाए। बाद सभी को बप्पा की प्रिय प्रसाद लड्डूओं का वितरण किया गया। कार्यक्रम के संयोजक रोटरी क्लब ‘मेन’ के युवा रोटेरियन पंकज जैन ‘कर्नावट’ रहे। वहीं अतिथियों में सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष एवं रोटेरक्ट क्लब सभापति नीरजसिंह राठौर तथा रोटरी क्लब ‘मेन’ अध्यक्ष अमितसिंह जादौन उपस्थित थे। सर्वप्रथम आश्रम के व्यवस्थापक राजूभाई द्वारा सभी को अन्न ग्रहण करने से पूर्व करवाई जाने वाली प्रार्थना करवाई गई। बाद रोटरेक्ट क्लब सभापति श्री राठौर ने सभी को गणपति बाप्पा मोरिया .... चार लड्डू चोरिया .... के जयघोष लगवाएं। इस अवसर पर सभापति श्री राठौर ने बताया कि आज जगत के पालनहार भगवान शिवजी एवं मां गौरी पुत्र गणेजी का पर्व है, श्री गणे संकटों को हरने के साथ मंगल करने वाले देव है। उनको…

शनिवार को राजवाडा चौक पर होगा विराट कवि सम्मेलन,, पोस्टर का किया गया विमोचन,,धुमधाम से होगी श्री गणेश जी की स्थापना

अमित शर्मा [झाबुआ अभीतक ] राकेश पोददार झाबुआ  । सार्वजनिक गणेश मंडल राजवाडा चौक झाबुआ द्वारा आगामी 15 सितम्बर कोरात्री 8-30 बजे से अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन राजवाडा चौक पर किया जावेगा । श्री बृजेन्द्र शर्मा चुन्नु भैया एवं सुरेशचन्द्र जैन पप्पु भैया के  सौजन्य से आयोजित होने वाले इस विराट कवि सम्मेलन में देश के जाने माने कवि एवं साहित्य प्रतिभाऐं अपनी रचनाओ  के माध्यम से लोगो  को साहित्य सुरभि का रसास्वादन करायेगें । बुधवार को दोपहर में राजवाडा चौक स्थित श्री सत्यनारायण मंदिर में कवि सम्मेलन के पोस्टर्स बेनर्स का विमोचन किया गया । कवि सम्मेलन के संयोजक नीरजसिंह राठौर एवं मनीष व्यास ने बताया कि कवि सम्मेलन में जानी बैरागी हास्य रस धार, संजय शुक्ला वीर रस राजस्थान, चेतन चर्चित लाफ्टर शो मुबई, अशोक सुंदरानी लाफ्टरा हंगामा मुंबई, मीरा दीक्षित श्रृगाररस हाथरस उप्र, बाबु बंजारा गीतकार बोरा राजस्थान, अपनी रचनाओं से  मनोंरंजन करेगें । कवि सम्मेलन के सूत्रधार धीरज शर्मा हास्य रस नालछा जिला धार रहेगें । पोस्टर विमोचन के अवसर पर नीरजसिंह राठौर, डा. केके त्रिवेदी, राजेन्द्र अग्निहौत्री, नान…

महाराणा प्रतापजी की जयंती धूमधाम से मनाई गई,कलेक्टर एवं एसपी ने किया समाज की श्रेष्ठ प्रतिभाओं का सम्मान

(अमित शर्मा) झाबुआ अभीतक
झाबुआ। शहर में प्रत्येक समाज की तरह राजपूत समाज भी अब सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेता है। महाराणा प्रताप वीरता के साथ पर्यावरण का भी विशेष ध्यान रखते थे एवं समय-समय पर सभी को पर्यावरण को बढ़ावा देने की प्रेरणा देते थे। जंगल में घास की रोटी खाकर अकबर से लोहा लेना समाज और देश के लिए असाधारण सी घटना है। हम सभी को झाबुआ शहर को हरा-भरा करने का संकल्प लेना चाहिए एवं जहां आवशयक लगे कम से कम 10-10 पौधे जरूर लगाकर उन्हें बड़ा करना चाहिए।
उक्त प्रेरणादायी विचार कलेक्टर आशीष सक्सेना ने महाराणा प्रतापजी की जयंती के उपलक्ष में रविवार रात स्थानीय गार्डन पर आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह में व्यक्त किए। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक महेचन्द्र जैन ने कहा कि महाराणाजी जैसे यौद्धा अपने सीने पर कई टनो का लोहा पहने जब  युद्ध भूमि में होते थे, तो उनको देखकर ही दुशमन भाग खड़े होते थे। पर्यावरण के प्रति लोगों की बढ़ती जागरूकता पर श्री जैन ने कहा कि आज आमजनों में पर्यावरण के प्रति सजगता आई है और इसी कारण हम सभी मिलकर इसके संतुलन में बड़ी भागीदारी निभा सकते है। सभी आने वाले वर्षाकाल में स…

शक्तिपीठ की स्थापना दिवस पर वैदिक मंत्रों के साथ गायत्री यज्ञ संपन्न।

(अमित शर्मा) झाबुआ अभीतक---- झाबुआ 13 मई। गायत्री महामंत्र के उच्चारण के साथ गायत्री शक्तिपीठ  (बसंत कालोनी) का स्थापना दिवस हर्शोल्लास के साथ संपन्न हुआ।
नगर के 51 परिवारों मे एक साथ एक समय पर वैदिक मंत्रोच्चार के साथ यज्ञ मे आहुतियां दी गई। जिससे वातावरण यज्ञमय हो गया।  स्थानीय गायत्री शक्तिपीठ बसंत कालोनी पर 16 वां स्थापना दिवस उत्साह के साथ गायत्री परिजनों एवं कार्यकर्ताओं द्वारा मनाया गया। प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी नगर के 51 परिवारों मे वैदिक मंत्रोच्चार के साथ गायत्री यज्ञ संपन्न कराया गया। जिले की पेटलावद शक्तिपीठ से हेमंत शुक्ला , जीवन भटट, थांदला से अंतरसिंह रावत, मेघनगर से एमएल चैहान, दोहाद से श्री मेहता, सहित कई महिला पुरूष कार्यकर्ता यज्ञाचार्य के रूप मे प्रातः शक्तिपीठ पर पहुचे। यहां से सभी कार्यकर्ता परिवारजनों के घरों पर पहुंचे ओर गायत्री महामंत्र सहित कई वैदिक मंत्रों के साथ यज्ञ कर पूर्णाहुति संपन्न करवाई गई। परिवार के सदस्यों ने भी उत्साह के साथ हवन करवाया ओर मां गायत्री, गुरूदेव ओर वंदनीया माताजी का आशीर्वाद प्राप्त किया। नगर के गोपाल काॅलोनी, बसंत काॅलोनी, रामकृष्णनग…

गायत्री शक्तिपीठ का 16 स्थापना दिवस रविवार (13 मई) को,51 घरों मे एक साथ होगे यज्ञ।

(अमित शर्मा)
झाबुआ 12 मई। गायत्री शक्तिपीठ बसंत कालोनी पर 16 वां स्थापना दिवस रविवार को मनाया जाएगा। इस अवसर पर नगर के 51 घरों मे वैदिक मंत्रोच्चार के साथ गायत्री यज्ञ संपन्न करवाए जाएंगे।
शक्तिपीठ के प्रमुख ट्रस्टी एसएस पुरोहित ने बताया कि वर्ष 2002 मे बसंत कालोनी स्थित गायत्री शक्तिपीठ पर मां गायत्री , मां दुर्गा, मां लक्ष्मी जी की प्रतिमाओं की प्राण प्रतिष्ठा की गई थी। तब से हर वर्ष मई माह मे यज्ञ की श्रृखला चलाई जा रही है। इस वर्श भी 13 मई रविवार को नगर के 51 घरो मे एक साथ एक ही समय मे यज्ञ संपन्न कराए जाएंगे। श्री पुरोहित ने बताया की यज्ञ संपन्न कराने के लिए पेटलावद, जोबट, अलिराजपुर, मेघनगर, थांदला सहित स्थानीय शक्तिपीठ से यज्ञाचार्य आएंगे। कार्यकर्ता श्री विनोद जायसवाल, एन पी गुप्ता,  दिनेश डांगी, अरूण अरोडा , श्याम त्रिवेदी, विनोद गुप्ता , दिपक त्रिवेदी , प्रशांत मलिक द्वारा यज्ञ की सामग्री परिवारों तक पहुचाई जा चुकी है। शक्तिपीठ पर महिला मंडल की सदस्य स्नेहला पुरोहित, रचना त्रिवेदी, गुणमाला डांगी, सुजाता जायसवाल द्वारा आयोजन की तैयारिया की जा रही है।

तीसरे पहर येसु ने त्यागे अपने प्राण, ईसाई समुदाय ने मनाया गुड फ्राईडे पर्व

(झाबुआ अभीतक)
झाबुआ। ʺसब पुरा हो चुका हैं˝, और इन शब्दों के साथ येसु ने अपनी आंखे बंद कर ली। पवित्र शुक्रवार या गुंड फ्राईडे समस्त संसार में ईसाईयों के मुख्य त्योहार के रूप में माना जाता है। आज के दिन को प्रभु येसु के लोगों के हितार्थ प्राण त्यागने के लिए जाना जाता है। प्रभु येसु के इस दुख भोग को मनाने के लिए प्रभु येसु के दुख भोग की तैयारी ईसाई लोगों ने राख बुध से शुरू की है चालीस दिनों तक त्याग तपस्या कर अपने आप को इस पुण्य सप्ताह के लिए तैयार किया है। कल पवित्र गुरूवार को प्रभु येसु अपने शी शिष्यो के साथ अंतिम भोजन करते है और भ्रात्रिय प्रेम का सबसे बडा उदाहरण समाज के सामने प्रस्तुत करते है वह है अपने स्वयं के ियों के पैर धोना। इस क्रिया से उन्होने मानव जाति के साथ एक माधुर्य संबंध को प्रकट किया। आज पुण्य शुक्रवार को येसु की प्रेममय विचार धारा के विरोधियों द्वारा येसु को पकडा जाता है, उनसे क्रुस उठवाया जाता है और उसी क्रुस पर किलों द्वारा येसु को ठेक दिया जाता है। सत्य हमेा सत्य विजय होता है। इसका उदाहरण येसु ने अपने कु्रस से हम सभी को प्रदान किया है। येसु ने क्रुस पर टंगे रहते हुए …

सम्यक दर्शन यानि सच्ची श्रद्धा होती है -ः पुनित प्रज्ञा श्रीजी मसा साध्वी,, श्रीजी ने सम्यक दर्शन पद की व्याख्या की

झाबुआ से रिंकू रुनवाल 
झाबुआ। सम्यक दर्शन  यानि सच्ची श्रद्धा होती है। हमे देव-गुरू एवं धर्म के प्रति सच्ची आस्था रखना चाहिए। समकित (श्रद्धा) के बिना किया हुआ धर्म-तप-जप-आराधना सभी निष्फल माने गए है। श्रद्धा के बिना की गई क्रिया बिना नींव के धर्म (मकान के समान) है, अर्थात बिना नीव के मकान नहीं टिक सकता। इसी प्रकार बिना समकित (श्रद्धा) के बिना धर्म नहीं टिक सकता है।
उक्त प्रेरणादायी उद्गार विष्व पूज्य दादा गुरूदेव श्रीमद् विजय राजेन्द्र सूरीष्वरजी मसा द्वारा प्रतिष्ठित स्थानीय श्री ऋषभदेव में जारी श्री सिद्ध चक्र शाष्वती ओलीजी की आराधना के छटवेें दिन तपोनिष्ठ साध्वी पपू विदुषी पुनित प्रज्ञा श्रीजी मसा ने धर्म सभा में व्यक्त किए। आराधना के छटवें दिन उन्होंने सम्यक दर्षन पद की व्याख्या की। साध्वी श्रीजी ने उपस्थित श्रावक-श्राविकाओं से कहा कि विपरित परिस्थितियों में भी धर्म के प्रति आस्था नहीं छोड़ना चाहिए, यहीं प्रभु के प्रति हमारी सच्ची श्रद्धा है एवं समकित का सूचक है एवं जो जीव देव-गुरू-धर्म के प्रति सच्ची श्रद्धा रखता है, वह जीव कर्म क्षय कर मोक्ष के अविचल शाष्वत सुख को प्राप्त करता है।
स…

नमो अरिहंताणं पद में सर्व सिद्धी समाहित है -ः पपू पुनित प्रज्ञा श्रीजी मसा,,, नौ दिवसीय श्री शाष्वत ओलीजी की तपस्या हुई प्रारंभ,,, 60 से अधिक आराधक कर रहे तपस्या

रिंकू रुनवाल [झाबुआ प्रतिनिधि ]
झाबुआ। विष्व पूज्य दादा गुरूदेव श्रीमद् विजय राजेन्द्र सूरीष्वरजी मसा द्वारा प्रतिष्ठित स्थानीय श्री ऋषभदेव बावन जिनालय में नौ दिवसीय शाष्वत ओलीजी की तपस्या आज से से प्रारंभ हुई। शुभारंभ श्री सिद्धचक्रजी के पट्ट के समक्ष अष्टप्रकारी पूजन कर किया गया। इसके पश्चात् आराधकों ने तपस्या आरंभ की। प्रथम दिन 60 से अधिक आराधक ओलीजी की तपस्या में शामिल हुए।
यह जानकारी देते हुए श्री संघ के युवा रिंकू रूनवाल ने बताया कि प्रातः मंदिरजी के तल पर स्थित श्री सिद्धचक्र पट्ट के समक्ष प्रातः अभिषेक, केसर पूजन, पुष्प पूजन, शांति कलष, स्नात्र पूजन के बाद अष्टप्रकारी पूजन एवं आरती का आयोजन हुआ। इसके पश्चात् आराधकों ने स्वस्तिक का निर्माण कर आराधना प्रारंभ की। 
तपस्या करने से आधि-व्याधि दूर होती है
श्री राजेन्द्र सूरी धर्मषाला में प्रवचन देते हुए साध्वी मणिप्रभा श्रीजी मसा की सुषिष्या पुनित प्रज्ञा श्रीजी मसा मसा ने अपने प्रवचन में श्री नमस्कार महामंत्र के प्रथम पद ‘नमो अरिहंताणं’ पद की व्याख्या की एवं बताया कि इस पद में सर्व सिद्धी समाहित है। तीन लोक के नाथ ऐसे अरिहंत परमात्मा को…

गणगौर उत्सव के तहत सांस्कृतिक कार्यक्रम का किया गया आयोजन,,भगौरिया नृत्य रहा मुख्य आकर्षण का केंद,बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ एवं पानी बचाओ-वृक्ष लगाओं का दिया गया संदेष

अमित शर्मा  झाबुआ। गणगौर उत्सव समिति राजवाड़ा चौक के तत्वावधान में 4 दिवसीय गणगौर उत्सव स्थानीय पैलेस गार्डन में धूमधाम से मनाया जा रहा है। शनिवार रात्रि 7 से 10 बजे तक सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें भगौरिया नृत्य की प्रस्तुति को सभी ने सराहा। इस दौरान माहेष्वरी समाज की ओर से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं का संदेष एवं पानी बचाओ-वृक्ष लगाओं का संदेष दिया गया। आयोजन में महिलाओं के याथ युवतियों एवं बालिकाओं ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।  राजपूत समाज, माहेष्वरी समाज, सोनी समाज, रजत समाज, अरोड़ा समाज, ब्राहा्राण समाज, पाटीदार समाज, गवली समाज, भावसार समाज, नीमा समाज सहित अन्य समाज की महिलाओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम में सहभागिता कर एकल, युगल एवं सामूहिक नृत्य की प्रस्तुतियां दी। कार्यक्रम में निणार्यक के रूप में रोटरी इन्हरव्हील क्लब युवा शक्ति की अध्यक्ष डाॅ. शेलु बाबेल एवं शक्ति एंपोरियम की हर्षा गिधवानी उपस्थित थी। 
इन्होंने पुरस्कार प्राप्त किया---- एकल नृत्य में  सपना पंवार प्रथम, अनिता पंवार द्वितीय एवं सुनिता सोनी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। युगल नृत्य में श्यामल अरोरा एवं आकांक्षा अरो…

एकात्मक मानव यात्रा में उमड़ा धार्मिक जनता का जन सैलाब,,

अमित शर्मा
झाबुआ/मेघनगर(नीलेश भानपुरिया)- नगर की धार्मिक जनता ने सेकड़ो की संख्या में आदि शंकराचार्य अष्टधातु संग्रहण एवं मानव एकात्मक की यात्रा में एकत्रित होकर इतिहास रचा जहां जहां तक देखो वहां वहां तक प्रत्येक गली प्रत्येक मोहल्ले एवं प्रत्येक मुख्य बाजारों में महिला एवं पुरुष हाथ में भगवा ध्वज लिए साथ में अष्टधातु का कलश लिए एक ही नाम एक ही नारा एकता का परिचय देते हुए घर घर से मेघनगर विकासखंड के प्रत्येक गांव एवं फलियो से निकलकर वनवासी भाई बहन बुधवार को सुबह 11:00 बजे शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पर एकात्मक यात्रा में सम्लित होने पहुंचे। जहां ओंकारेश्वर से 19 दिसंबर से प्रारंभ हुई यात्रा बन,रानापुर,झाबुआ अंतरवेलिया होती हुई  दोपहर 12 बजे मेघनगर से आरंभ हुई जिसमें भगवा ध्वज से लहराता हुआ एक बड़ा रथ LED वाहन साथी पीछे एकात्मक मानवता यात्रा की धर्म ध्वजा कलश एवं आदि शंकराचार्य की चरण पादुका थाली में सुसज्जित होकर पूज्य संतों का पदार्पण मेघनगर में हुआ। जिसमें परम पूज्य श्री समवीत सोम गिरी  महाराज बीकानेर श्री महंत भूमानंद सरस्वती  महाराज गोरक्षा समिति के अध्यक्ष श्री नारायण  व्यास को…

भागवत कथा के कार्यालय का विधिवत हुआ शुभारंभ,, भागवत कथा में निहीत अच्छाईयों को सभी जीवन में अंगीकार करे- महेश शर्मा

शोभायात्रा में अधिक से अधिक धर्मप्रेमियों को सहभागी होने का किया आव्हान
अमित शर्मा
झाबुआ । भक्ति का आधारयह है कि सारी कथा में ही भक्तिभावना आभासित होना चाहिये तथा मानव के आन्तरिक एवं बाह्य दोनों स्वरूपों पर कथा का प्रभाव दिखाई देना चाहिये । 5 हजार साल पूराने सनातन धर्म के इस इतिहास को जिसे सुतजी महाराज के श्रीमुख से परिक्षित ने सुना के बारे में उसमे निहीत अच्छाईयों एवं बुराईयों के बारे में मंथन करके अपने जीवन में अच्छाईयों को उतारने का प्रयास होना चाहिये । भागवत कथा के माध्यम से पूरे देश में संत एवं कथाकार भक्ति भावना को प्रवाहित करते है, भक्ति ईषवर और जीव के एकाकार होने  को कहा जाता है और कथा श्रवण से भक्ति एवं ईशवरीय एकाकारता की प्रक्रिया को भक्ति कहा जाता है । भागवत कथा भारत की गौरव गाथा है जिसके श्रवण से  पूण्य मिलता है । और परिवार समाज एवं दे में इस पूण्यकर्म को  फैलाने का काम सुनने से नही सुनाने से मिलता है।श्रीमद भागवत कथा के आयोजन में नगर के 10 हजार परिवारों को श्रवण के लिये आना चाहियेइसके लिये आयोजको को हर घर तक सन्देश पहूंचाना चाहिये ।आज हम पूर्वजों के पुरूशाार्थ को भुल चुके ह…

मालवा जैन महासंघ एवं रोटरी क्लब द्वारा जरूरतमंदों को वितरित किए गए कंबल

अमित शर्मा 
झाबुआ। मालवा जैन महासंघ एवं रोटरी क्लब झाबुआ द्वारा रविवार को दोपहर 12 बजे एक कार्यक्रम का आयोजन कर बाजार में घूमने वाले जरूरतमंदों एवं गरीबजनों को निःशुल्क कंबल का वितरण किया गया, ताकि उन्हें शीत ऋतु में लगने वाली कड़ाके की ठंड में ठिठुरन से राहत मिल सके।कार्यक्रम में उपस्थित मालवा जैन महासंघ के केंद्रीय प्रवक्ता यशवंत भंडारी ने बताया कि उनके एवं उनके पुत्र निखिल भंडारी द्वारा प्रतिवर्ष शीत ऋतु में बाजार में घूमने वाले जरूरतमंदों एवं गरीबजनों को कंबल, शाल, स्वेटर आदि का वितरण किया जाता है। सुबह एवं रात्रि के दौर में लगने वाली ठंड के दौरान फुटपाथ एवं अन्यत्र जगहों पर गरीबो एवं निराश्रितों को विश्राम करते समय काफी परेानी होती है एवं उनके स्वास्थ्य को भी नुकसान पहुंचता है। उन्हें मद्द की दरकार रहती है।
कंबलों का किया वितरण-----
इस उद्देय से मालवा जैन महासंघ एवं रोटरी क्लब के बेनर तले केंद्रीय प्रवक्ता यशवंत भंडारी एवं रोटरी क्लब के युवा सदस्य निखिल भंडारी तथा उनके परिवारजनों द्वारा 20 से अधिक गरीबां एवं जरूरत मंदो को कंबलों का वितरण किया गया। इस अवसर पर रोटरेक्ट क्लब अध्यक्ष रिं…

सच्चा भक्त वही है, जो भगवान की खुशी को अपनी खुशी मानता है- सौभाग्यसिंह चौहान,, अखण्ड नाम संकीर्तन का हुआ आयोजन

अमित शर्मा 
झाबुआ । श्री सत्य सांई बाबा आध्यात्मिक गुरु थे, उनके संदेशों ने पूरी दुनिया के लोगों को सही नैतिक मूल्यों के साथ उपयोगी जिंदगी जीने की प्रेरणा देने का कार्य किया है। सत्यसाई बाबा ने कहा था कि मनुष्य को सभी क्षेत्रों में कुछ नियम बनाने की जरूरत है, ताकि वह अपने दैनिक कार्यक्रम के संचालन में परिपक्वता लाकर जीवन जीने की प्रक्रिया का वास्तविक निर्देशन कर सके, क्योंकि ये भी आचार संहिता का हिस्सा है, इन्हें भी अनुशासन के रूप में देखना चाहिए। शिक्षा हमेशा पथ को प्रकाशवान करती है। अज्ञान का अंधकार और संदेह की सांझ इसके दीप्तमान होने के पहले ही गायब हो जाती हैं। पर्वत की चोटियों पर बारिश होती है और पानी सब तरफ से नीचे की ओर बहता है, उससे किसी नदी का निर्माण नहीं होता, लेकिन जब पानी एक दिशा में बहता है तो पहले नाले का निर्माण होता है, फिर धारा बनती है। उक्त विचार ानिवार को  श्री सत्यसाईबाबा के 92 वें जन्मोत्सव सप्ताह के पूर्व आयोजित अखण्ड नाम संकीर्तन के अवसर पर विवेकानंद कालोनी स्थित सत्यधाम पर उपस्थित साईभक्तों को संबोधित करते हुए सौभाग्यसिंह चौहान ने कहीं ।
श्री सत्यसाई सेवा समिति …

श्री मोहनखेड़ा महातीर्थ में गुरुमंदिर प्रतिष्ठा एवं स्मृति मंदिर ध्वजारोहण महोत्सव में सेवा दे रहे झाबुआ श्री संघ के कई युवा

अमित शर्मा 
झाबुआ। श्री आदिनाथ राजेन्द्र जैन श्वेतांबर पेढ़ी ट्रस्ट के तत्वाधान में 11 से 15 नवंबर तक श्रीमद् विजय धनचन्द्रसूरीश्वरजी मसा के स्मृति मंदिर के ध्वजारोहण एवं दादा गुरुदेव की पाट परंपरा के षष्ठम पटधर राष्ट्रसंत शिरोमणी गच्छाधिपति आचार्यदेवेश श्रीमद्विजय हेमेन्द्रसूरीश्वरजी म.सा. के गुरु समाधि मंदिर प्रतिष्ठा का पांच दिवसीय महोत्सव श्री मोहनखेड़ा महातीर्थ पर शनिवार से प्रारम्भ हुआ। इस महोत्सव मंे झाबुआ श्री संघ से कई युवा शामिल होकर अपनी सराहनीय सेवाएं दे रहे है।  महोत्सव में गच्छाधिपति आचार्यदेवेश श्रीमद्विजय ऋषभचन्द्रसूरीश्वरजी म.सा., मालवकेसरी मुनिराज श्री हितेशचन्द्रविजयजी म.सा., मुनिराज श्री दिव्यचन्द्रविजयजी म.सा., मुनिराज श्री रजतचन्द्रविजयजी म.सा., मुनिराज श्री चन्द्रयशविजयजी म.सा., मुनिराज श्री वैराग्ययशविजयजी म.सा., मुनिराज श्री जिनचन्द्रविजयजी म.सा., मुनिराज श्री जीतचन्द्रविजयजी म.सा., मुनिराज श्री जनकचन्द्रविजयजी म.सा., साध्वी श्री किरणप्रभाश्री जी म.सा., साध्वी श्री सद्गुणाश्री जी म.सा., साध्वी श्री संघवणश्री जी म.सा. आदि अपनी निश्रा प्रदान कर रहे है। रविवार को आच…

सूरि मंत्र प्रथम पीठ 21 दिवसीय साधना की पूर्णाहुति पर आज हुआ महामांगलिक का भव्य आयोजन

अमित शर्मा
झाबुआ । गौरीपार्ष्वनाथ जैन मंदीर से आचार्य श्री का मौन मांगलीक कक्ष से बाहर आयें सभी भक्तों ने दर्षन किय ओर आचार्य श्री की जयजयकार से पुरा जिनालय गुंज उठा। दादा गुरुदेव श्रीमद्विजय राजेन्द्रसूरीश्वर जी म.सा. की पाट परम्परा के अष्ठम पटधर वर्तमान गच्छाधिपति आचार्यदेवेश श्रीमद्विजय ऋषभचन्द्रसूरीश्वरजी म.सा. की पावनतम निश्रा एवं पूज्य मुनिराज श्री रजतचन्द्रविजयजी म.सा., मुनिराज श्री जिनचन्द्रविजयजी म.सा., मुनिराज श्री जीतचन्द्रविजयजी म.सा., मुनिराज श्री जनकचन्द्रविजयजी म.सा., साध्वी श्री रत्नरेखाश्री जी म.सा., साध्वी श्री अनुभवदृष्टाश्री जी म.सा., साध्वी श्री कल्पदर्शिताश्री जी म.सा. आदि ठाणा की सानिध्यता में झाबुआ शहर में वर्षावास 2017 के दौरान शहनाई गार्डन में सूरि मंत्र प्रथम पीठ की 21 दिवसीय साधना की महामांगलिक का भव्य आयोजन किया गया ।

श्रीसंघ के मीडिया प्रभारी रिंन्कु रूनवाल ने बताया कि इस महामांगलिक में श्री आदिनाथ राजेन्द्र जैन श्वे. पेढ़ी ट्रस्ट श्री मोहनखेड़ा तीर्थ के महामंत्री फतेहलाल कोठारी, मेनेजिंग ट्रस्टी सुजानमल सेठ, कोषाध्यक्ष हुक्मीचंदजी वागरेचा, जयंतिलाल बाफना, बा…

महाष्टमी पर "राजवाडा चौक" मे भक्ति भावना के साथ गरबों की जमी रंगत,विधायक बिलवाल ने भी खेले गरबे

अमित शर्मा  झाबुआ । या देवी सर्वभूतेषू शक्ति रूपेण संस्थिता, नमस्तस्यै, नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमःके जय घोष से पूरा राजवाडा चैक गरबोत्सव के दौरान मां जगदम्बा की शक्ति एवं भक्ति से सराबोर हो गया । शारदेय नवरात्री की अष्टमी को  श्री देवधर्मराज मंदिर पर पूरी श्रद्धा एवं भक्ति के साथ शास्त्रोक्त मंत्रोच्चार के साथ मां दुर्गा का महापूजन किया गया तथा हवन आयोजित करके आहूतिया दी गई । हवन पूजन के  यजमान अनुज  एवं श्रीमती पूजा चैहान, राजेन्द्र एवं श्रीमती शैलू नीमा व प्रमोद एवं श्रीमती दीपिका परमार ने धर्म लाभ लिया । श्री देवधर्मराज मंदिर मे बिराजित मां दुर्गा की महा मंगल आरती रात्री 8-30 बजे ढोल ढमाकों एवं बेंड की धुनों पर आयोजित की गई जिसमे पूरा मंदिर परिसर मां की आरती के श्रद्धालुओं से भर गया । इस अवसर पर श्री देवधर्मराज मंदिर समिति, राजवाड़ा मित्र मंडल व महिला मंडल तीनों ही समितियों के संरक्षक, पदाधिकारी व सदस्यों ने सपरिवार उपस्थित होकर माताजी की महाआरती की । विधायक बिलवाल एवं निर्मला भूरिया ने भी खेले गरबे----- गुरूवार को  राजवाडा चैक पर आयोजित गरबोत्सव में क्षेत्रीय विधायक शांतिलाल बिलवाल भ…

संगीत की स्वर लहरियों के साथ राजवाडा पर गरबो का हो रहा आयोजन,26 को होगा छात्र छात्राओं के लिये चित्रकला स्पर्धा का आयोजन

अमित शर्मा
झाबुआ । नगर के हृदय स्थल राजवाडा चौक मे मां की भक्ति एवं श्रद्धा की निर्झरिणी प्रवाहित हो रही है । श्री देवधर्मराज पवरात्री उत्सव में नवरात्री के तीसरे दिन हजारों र्दाकों ने पारम्परिक रूप से राजवाडा मित्र मंडल द्वारा आयोजित गरबों को देर रात्रि तक आनन्द उठाया । मां के गरबों में जहां युवा एवं युवितयों द्वारा पूरी तल्लिनता से गरबों का आनन्द लेकर मां के प्रति अपनी भक्ति प्रर्दित कर रहे थे । राजवाडा मित्र मंडल के गोपाल नीमा ने जानकारी देते हुए बताया कि  नवरात्री के तीयरे दिन देवधम्रराज मंदिर में माताजी की आरती 08.30 पर सम्ंपन्न हुई । गरबों के इस आयोजन में अतिथि के रूप रोटरी अध्यक्ष उमंग सक्सेना, बार एसोशिएशन अध्यक्ष रमेश डोसी , समाजसेवी संजय कांठी व लाखनसिंह सोलंकी विा रूप  से उपस्थित थे वही गरबो के दौरान मंच पर अतिथि के रूप में नवीन कुआंदे पूर्णकालिक कार्यकर्ता झाबुआ विधानसभा एसडीओपी श्री परिहार, जेल अधीक्षक, समाजसेवी बाबुलाल कोठारी, प्रकाश कटारिया व ऋषि डोडियार मित्र मंडल उपस्थित रहे।
राजवाडा चौक मे आयोजित गरबा प्रांगण में विशेष आकर्षण बदनावर की श्रीष्ण लीला की झाँकी को लोगों ने…